ब्रह्माकुमारीज़ टिकरापारा सेवाकेन्द्र में मनाया गया गुरू पूर्णिमा का पर्व

Spread the love
सादर प्रकाषनार्थः-
प्रेस-विज्ञप्ति
सत्गुरू का संग सभी बुराईयां छुड़ा देता है – ब्रह्माकुमारी मंजू दीदी
ब्रह्माकुमारीज़ टिकरापारा सेवाकेन्द्र में मनाया गया गुरू पूर्णिमा का पर्व
बिलासपुर, टिकरापारा, 26 जुलाईः सन्यासियों, गुरूओं का इस विष्व में बहुत महत्व है क्योंकि इनकी पवित्रता के कारण ही यह धरती थमी हुई है। यदि ऐसे पवित्र व्यक्ति संसार में न होते तो अपवित्रता का कर्म अपने चरम पर पहुंच जाता और सारी दुनिया विकारों की आग में कब की जल चुकी होती। जिस प्रकार सुर के बिना तान नहीं मिल सकता उसी प्रकार गुरू के बिना ज्ञान नहीं मिल सकता।
उक्त बातें ब्रह्माकुमारीज़ टिकरापारा सेवाकेन्द्र में गुरू पूर्णिमा के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित साधकों को संबोधित करते हुए सेवाकेन्द्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी मंजू दीदी जी ने कही। दीदी ने अपने जीवन में विभिन्न गुरूओं के सानिध्य से सीखी गई षिक्षाओं को साझा करते हुए कहा कि षिक्षाएं जीवन के किसी न किसी मोड़ पर काम में जरूर आती है। यदि मन में तीव्र इच्छा हो तो गुरूओं की आज्ञाओं को पालन करते-करते एक समय आता है जब हमारी भक्ति पूरी हो जाती है और भक्ति की पूर्णता के बाद सत्य ज्ञान की प्राप्ति होती है जिसमें हमें परमसत्गुरू परमात्मा की सत्य पहचान मिलती है। और जब सत्गुरू का संग प्राप्त होता है तो धीरे-धीरे करके हमारी सभी बुराईयां समाप्त हो जाती हैं।
भ्राता सम्पादक महोदय,
दैनिक………………………..
बिलासपुर (छ.ग.)