भगवान शिव का प्रिय महीना है श्रावण – ब्रह्माकुमारी रूपा दीदी

सादर प्रकाशनार्थ
प्रेस विज्ञप्ति
भगवान शिव का प्रिय महीना है श्रावण – ब्रह्माकुमारी रूपा दीदी
ब्रह्माकुमारीज़ राजकिशोर नगर सेवाकेन्द्र में श्रावण सोमवार मनाया गया…
शिव-अनुराग भवन में की गई शिव की आराधना

ब्रह्माकुमारीज़ राजकिशोरनगरः- श्रावण महीना भगवान शिव का अतिप्रिय महीना है। भगवान शिव स्वयं अपने कण्ठ पर विष धारण कर हमें सोमरस अर्थात् ज्ञान रूपी अमृत का पान कराते हैं इसलिए भक्तजन श्रावण माह के हर सोमवार को शिव जी की विशेष पूजा करते हैं। परमपिता परमात्मा शिव के साथ आत्मिक संबंध जोड़कर जब हम अपने को पवित्र बंधन में बांधते हैं तब सर्वशक्तिवान शिव पिता हमारे लिए शत् प्रतिशत सुख-शान्ति, समृद्धि संपन्न सतयुगी संसार की रचना करते हैं। पवित्रता का प्रतीक रक्षाबंधन, समर्पण का प्रतीक नारियल पूर्णिमा, सतयुग के आगमन का प्रतीक जन्माष्टमी आदि महत्वपूर्ण त्यौहार इसी महीने में मनाए जाते हैं। वास्तव में वर्तमान समय सारी सृष्टि का श्रावण माह ही है इसलिए इस पावन महीने में परमप्रिय शिव परमात्मा का सत्य परिचय जान उनसे अपना संबंध और बुद्धियोग जोड़ें।
उक्त बातें श्रावण सोमवार के अवसर पर स्मृति-वन के निकट, राजकिशोरनगर स्थित ब्रह्माकुमारीज़, शिव-अनुराग भवन में सजाए गए शिव-नंदी व शंकर जी की मूर्ति की आराधना करते हुए राजकिशोर नगर सेवाकेन्द्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी रूपा दीदी ने कही। आपने बतलाया कि राजकिशोर नगर के शिव अनुराग भवन व टिकरापारा के आनंद वाटिका में सभी साधकों और शिवभक्तों के लिए सावन के हर सोमवार को प्रातः 7 से 12 व शाम 4 से 8 बजे तक शिव आराधना के लिए सेवाकेन्द्र खुला रहेगा।
इस अवसर पर टिकरापारा सेवाकेन्द्र प्रभारी ब्र.कु. मंजू दीदी, राजकिशोर नगर की अन्य बहनें व अन्य माताएं उपस्थित रहीं। दिन भी शिव पूजन के लिए लोग आते रहे।